story-detail-imagen-3

कछुआ और खरगोश; भाग I

धीमे कछुए और तेज़ खरगोश की क्लासिकल दंतकथा

icon leven
मध्यम वर्ग
इस कहानी को Beelinguapp में पढ़ें और सुनें!

कछुआ और खरगोश; भाग I

धीमे कछुए और तेज़ खरगोश की क्लासिकल दंतकथा

मध्यम वर्ग
इस कहानी को Beelinguapp में पढ़ें और सुनें!

एक बार की बात है, एक खरगोश था जो कहता था कि वह किसी से भी ज्यादा तेज़ भाग सकता है। वह हमेशा कछुए का धीमे होने का मजाक उड़ाया करता था।
फिर एक दिन, गुस्से में कछुए ने जवाब दिया: "तुम अपने आपको समझते क्या हो? तुम बहुत तेज़ हो लेकिन तुम्हें भी हराया जा सकता है!"

किसी भी भाषा में पढ़ें और सुनें

लोकप्रिय परियों की कहानियां और दंतकथाएं कहानियां

हेंगबू और नोल्बू: ए कोरियन फेयरीटेल
एक अमेज़ोनियन पौराणिक कथा; भाग I
शहद की छोटी-सी बूँद; भाग I
स्नो व्हाइट; भाग I

नवीनतम परियों की कहानियां और दंतकथाएं कहानियां

लीर के बच्चे: एक आयरिश कथा
हरक्यूलिस एंड द जायंट्स
बाबुष्का: एक रूसी लोककथा
द कैट ऑन द डोवरेफेल: ए नॉर्डिक क्रिसमस टेल

Tags:
कछुआ और खरगोश; भाग I अंग्रेजी में कछुआ और खरगोश; भाग I स्पेनिश में कछुआ और खरगोश; भाग I जर्मन में कछुआ और खरगोश; भाग I स्वीडिश में कछुआ और खरगोश; भाग I इतालवी में कछुआ और खरगोश; भाग I जापानी में कछुआ और खरगोश; भाग I कोरियाई में कछुआ और खरगोश; भाग I पुर्तगाली में कछुआ और खरगोश; भाग I फ्रेंच में कछुआ और खरगोश; भाग I तुर्किश में कछुआ और खरगोश; भाग I हिंदी में